Gham Ka Khazana Ghazal Lyrics in Hindi download PDF | Jagjit Singh Lata Mangeshkar

ग़ज़ल – गम का खज़ाना
स्वर – लता मंगेशकर, जगजीत सिंह
एल्बम – सज़दा
शायर – शाहिद कबीर
संगीत – जगजीत सिंह
लेबल – सारेगामा

gham-ka-khazana-sagarlyrics
gham-ka-khazana-sagarlyrics
गम का खज़ाना तेरा भी है, मेरा भी
गम का खज़ाना तेरा भी है, मेरा भी
ये नज़राना तेरा भी है, मेरा भी…..
अपने गम को गीत बनाकर गा लेना….
अपने गम को गीत बनाकर गा लेना
राग पुराना तेरा भी है, मेरा भी
राग पुराना तेरा भी है, मेरा भी
गम का खज़ाना तेरा भी है, मेरा भी….
तू मुझको और मैं तुमको समझाऊँ क्या
तू मुझको और मैं तुमको समझाऊँ क्या
दिल दीवाना तेरा भी है, मेरा भी
दिल दीवाना तेरा भी है, मेरा भी
गम का खज़ाना तेरा भी है, मेरा भी…..
शहर में गलियों गलियों जिसका चर्चा है
शहर में गलियों, गलियों जिसका चर्चा है
वो अफ़साना तेरा भी है, मेरा भी
मैखाने की बात ना कर वाइज़ मुझसे
मैखाने की बात ना कर वाइज़ मुझसे
आना जाना तेरा भी है मेरा भी
गम का खज़ाना तेरा भी है, मेरा भी
ये नज़राना तेरा भी है, मेरा भी
गम का खज़ाना तेरा भी है, मेरा भी ||
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *